Customer Id क्या होता है? – Customer Id कैसे पता करे?

कस्टमर आईडी क्या होता है, Customer ID kya hota hai, Customer Id कैसे पता करे, Customer Id kaise banate hain, Customer id kaise nikale

नमस्कार दोस्तों आपका हुमारती वेबसाइट पर हार्दिक स्वागत है| आज के इस ब्लॉग में हम आपको Customer Id के बारे में हर एक चीज़ बताएँगे| जैसे की कस्टमर आईडी क्या होता है, इसके क्या फायदे है, इसको आप कहा से देख सकते है और जान सकते है की आपकी कस्टमर आईडी क्या है और भी बहुत कुछ| हम आपको हर एक चीज़ बहुत ही आसान भाषा में समझायेंगे जिसकी मदद से आप कस्टमर आईडी के बारे बहुत ही आसानी से समझ जाएंगे और साथ ही आप इसके फायदों का लाभ भी ले पाएंगे|

अब यह भी हो सकता है की आप में बहुत से लोगो को तो इसके बारे ज़रा सा भी न पता हो और वह इसके बारे में पहली बार सुन रहे तो उनके लिए ही हम इस ब्लॉग में बहुत ही बेसिक से इसके बारें में समझायेंगे जिसकी वजह से आप फिर ऐसा परिवर्तन देखेंगे की पहले आपको इसके बारें में कुछ नहीं पता होने से आप इसके बारे में सब कुछ जान लेंगे| बस आप यह सुनिश्चित करले की आप इस ब्लॉग को आखिर तक पढ़े और फिर उसके बाद आप इसके बारे में हर एक चीज़ समझ  जाएंगे|

तो अब हम आर्टिकल को शुरू करते है और सबसे पहले जानते है की Customer Id होती क्या है? तो चलिए शुरू करते है इस ब्लॉग को|

Customer Id क्या होता है?

कस्टमर आईडी जिसका फुल फॉर्म “Customer Identification” है एक प्रकार की यूनिक आईडी होती है जो की बैंक अपने कस्टमर को देता है जिसकी मदद से उसकी कस्टमर की पहचान होती है| यह यूनिक आईडी अंक और अंग्रज़ी के लेटर्स की मदद से बने होते है जैसे की 8908mjh| लेकिन जो कस्टमर आईडी बैंक के खाते के साथ मिलती है उसमें सिर्फ अंक ही होते है|

कस्टमर आईडी एक तरह का जरिया है जिसकी मदद से बैंक अपने कस्टमर को पहचान सकता है| मतलब की यदि आप किसी वजह से अपना बैंक अकाउंट नंबर को भूल गए लेकिन आपको अपना कस्टमर आईडी नंबर याद है तो आप अपनी खाते के बारे में हर एक जानकारी को जान सकते हो और अगर आपको इंटरनेट बैंकिंग या मोबाइल बैंकिंग का इस्तमाल करना हो तो उसके लिए भी आपसे आपकी कस्टमर आईडी के बारे में पुछा जाएगा|

हर एक ग्राहक की अलग अलग कस्टमर आईडी होती है जिसकी वजह से बैंक अपने कस्टमर को पहचान सकता है| कस्टमर आईडी ही एक ऐसी चीज़ है जिसकी मदद से हर एक कस्टमर की एक अलग पहचान होती है जैसे की बहुत साड़ी वेबसाइट आपको अपना यूजरनेम बनाने को कहती है जो की आपको खुद ही बनाना होता है  और कभी कबार वो यूजरनेम उपलब्ध नहीं होता क्योकि हर एक यूजरनेम को अलग रखना है| उसी प्रकार बैंक खुद अपने कस्टमर को कस्टमर आईडी देता है|

कस्टमर आईडी के क्या फायदे है?

अब हम आपको बताएँगे की कस्टमर आईडी के क्या फायदे है और आप इसकी मदद से किन किन चीज़ो का फायदा ले सकते हो| तो चलिए आपको बताते है इसके फायदों के बारे में|

  • अगर आप अपना इंटरनेट बैंकिंग या मोबाइल बैंकिंग अकाउंट बनांयेंगे तो आपको अपनी कस्टमर आईडी देनी पड़ेगी जिसकी मदद से आप पैसो का लेन-देन कर पाएंगे|
  • यह बैंक को मनी लॉन्ड्रिंग या आपके क्रेडिट कार्ड पर अधिक खर्च जैसी गतिविधियों पर नजर रखने में मदद कर सकता है।
  • कभी कभी आपके एक ही बैंक काफी सारे अकाउंट होते है जैसे की ननननननसाविंग अकाउंट भी, फिक्स्ड डिपाजिट अकाउंट भी और भी कही प्रकार के और इन सबकी कस्टमर आईडी अलग अलग होती है| तो खुद RBI आपको यह गाइडलाइन देता है की आपको एक ही कस्टमर आईडी से अपने सारे अकाउंट लिंक करने चाहिए जिसे विभिन्न चरणों में किया जाना चाहिए जैसे कि बैंकिंग संबंध, वित्तीय लेनदेन करना या जब बैंक को पहले प्राप्त ग्राहक पहचान डेटा की प्रामाणिकता / सत्यता या पर्याप्तता के बारे में संदेह हो।
  • आप इसकी मदद से बहुत सारे काम बहुत ही आसानी से कर सकते है जैसे की आप अपना इंटरनेट बैंकिंग पेमेंट कर सकते है, आपका क्रेडिट कार्ड स्कोर और भी बहुत सारी गतिविधियो को बैंक आसानी से ट्रैक कर पाता है जिसकी वजह से जो यह काम करने में बहुत तकलीफ होती थी अब यह यह सारे काम बहुत ही जल्दी और आसानी से हो पा रहे है|

Customer Id कैसे पता करे?

अब हम आपको बताएँगे की आप कैसे अपनी कस्टमर आईडी देख सकते है और कैसे आप फिर इन चीज़ो का फायदा ले सकते है| कस्टमर आईडी चेक करने के लिए आपके पास काफी सारे विकल्प है और आप किसी भी विकल्प का इस्तेमाल करके अपनी कस्टमर आईडी पहचान सकते हो| यह भी है की अलग अलग बैंक का अलग अलग तरीका है जिसकी मदद से आप अपनी कस्टमर आईडी देख सकते है| तो चलिए जानते है इन सबके बारे में|

बैंक पासबुक

लकभक हर एक बैंक अपने ग्राहक को उसकी कस्टमर आईडी बैंक के द्वारा दी की पासबुक में ही लिखी होती है| आप अपनी कस्टमर आईडी अपने बैंक पासबुक के पहले या फिर फ्रंट पेज पर देख सकते हो|

बैंक स्टेटमेंट

आप अपनी कस्टमर आईडी अपनी  स्टेटमेंट में भी देख सकते है| आप चाहे तो बैंक के द्वारा दी की स्टेटमेंट की मदद से चेक कर सकते है या फिर आप अपनी इंटरनेट बैंकिंग की मदद से स्टेटमेंट निकालके अपनी कस्टमर आईडी को चेक कर सकते है|

इंटरनेट बैंकिंग

यदि आप अपनी बैंक के इंटरनेट बैंकिंग कस्टमर है तो आप उनकी इंटरनेट बैंकिंग साइट पे जाके लॉगिन करें और उसके बाद आप अपना कस्टमर आईडी नंबर चेक कर सकते हैं|

बैंकिंग टोल फ्री नंबर

हर एक बैंक का एक टोल फ्री नंबर होता है| यह टोल फ्री नंबर हर एक बैंक का अलग अलग होता है इसी लिए आपको हम जितने हो सके उतने बैंक के टोल फ्री नंबर बताएँगे| आपको बस अपने बैंक के टोल फ्री नंबर पर कॉल करना है और फिर आप उनसे अपना कस्टमर आईडी पूछेंगे| उसके लिए वह आपसे आपका बैंक अकाउंट नंबर पूछेंगे और उसके बाद आप अपना कस्टमर आईडी पता लगा पाएंगे|

विभिन्न बैंकों के टोल फ्री नंबर 

State Bank of India –    1800 425 3800

Punjab National Bank – 1800 180 2222

Union Bank of India –      1800 22 2244

India Post Payment Bank- 155299

HDFC Bank –    1800 202 6161

ICICI Bank – 1800 200 3344

Axis Bank – 1860 419 5555

HDFC customer Id कैसे पता करे?

Leave a Comment